You are here
Home > Spiritual > विष्णुप्रयाग

विष्णुप्रयाग

देवभूमि उत्तराखंड के प्रसिद्ध पंचप्रयागों और प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है पावन धाम विष्णु प्रयाग। यह भारत के प्रसिद्ध संगम स्थलों में से एक है। यह समुद्र तल से 1372 मी की ऊँचाई पर स्थित है | “विष्णुप्रयाग” विष्णुगंगा (धौली गंगा) तथा अलकनंदा नदियों के संगम पर स्थित है। अलकनंदा का उद्गम स्थल “सतोपंथ” है और धौलीगंगा नदी का उद्गम स्थल “नीति पास” है और यह बड़े वागे से अलकनंदा में मिलती है | यह जोशीमठबद्रीनाथ मोटर मार्ग पर स्थित है | जोशीमठ से आगे मोटर मार्ग से 13 km और पैदल मार्ग से 3 km की दुरी पर विष्णुप्रयाग स्थित है | मंदाकिनी एवम् धौली गंगा के संगम पर स्थित इस पवित्र स्थान पर नारद ने अष्टाक्षरी जप से भगवान विष्णु को प्रसन्न किया था और यह भी कहा जाता है कि यहाँ भगवान् विष्णु न्रसिंह अवतार में समाधिस्थ हुए थे | संगम पर भगवान विष्णु जी प्रतिमा से सुशोभित प्राचीन मंदिर और विष्णु कुण्ड दर्शनीय हैं | पंच प्रयाग में देवप्रयाग के बाद “विष्णुप्रयाग” का विशेष महत्व माना जाता है |उत्तराखंड के पंच प्रयाग हैं विष्णुप्रयाग, नंदप्रयाग, कर्णप्रयाग, रुद्रप्रयाग और देवप्रयाग।  प्रयाग धौली गंगा तथा अलकनंदा नदियों के संगम पर विष्णुप्रयाग संगम पर भगवान विष्णु जी प्रतिमा से सुशोभित प्राचीन मंदिर और विष्णु कुण्ड दर्शनीय हैं जय माँ गंगा 🙏

Leave a Reply

Top
); ga('require', 'linkid', 'linkid.js'); ga('set', 'anonymizeIP', true); ga('set', 'forceSSL', true); ga('send', 'pageview');
error: Content is protected !!